सेक्स की 69 पोज़ीशन के बारे में तो ज्यादातर सभी लोग जानते ही होंगे, लेकिन क्या आपने कभी आजकल चल रहे नये सेंसुअल स्टाइल के बारे में सुना है? नहीं सुना तो हम आपको बता देते हैं। आजकल के कपल्स इस “द 68” पोज़ीशन को लेकर पागल हो रहे हैं, जो नये और हॉट प्लेज़रेबल क्लासिक सेक्स का एक नया अंदाज़ है।

माना जाता है कि सेक्स की 69 पोज़ीशन आपसी संतुष्टि के लिए अच्छी होती है, लेकिन आजकल की नई हॉट सेक्स पोज़ीशन सिर्फ एक ही व्यक्ति पर फोकस करती है और उसे देती है बेहतरीन ओरल प्लेज़र अनुभव…

एक पार्टनर को मिलता है बेहतरीन अनुभव

जहां एक्रोबेटिक 69 में दोनों ही पार्टनर एकसाथ एकदूसरे को प्लेज़र देते हैं, “द 68” में एक ही पार्टनर को उसकी जिंदगी का बेहतरीन अनुभव देने पर फोकस किया जाता है। यहां एक पार्टनर दूसरे के ऊपर लेटता है और ओरल प्लेज़र लेता है।

क्या होता क्या है “द 68” में

“द 68” में होता यह है कि सेक्स में शामिल एक पार्टनर अपनी पीठ के बल लेटता है। उसके घुटने मुड़े होते हैं और पैर जमीन या बेड पर फ्लैट रखे होते हैं। अब दूसरा पार्टनर उसकी छाती पर कुछ इस तरह लेटता है कि उसके जननांग नीचे वाले पार्टनर के मुंह के ऊपर और नज़दीक ही रहें।

प्लेज़र देने वाला बहुत आसानी से जो चाहे, उसे एक्सप्लोर कर सकता है जबकि प्लेज़र लेने वाला आराम से लेटकर इस मजेदार सेंसेशन को एन्जॉय करता है।

महिला के लिए परफेक्ट

यह पोज़ीशन खासतौर पर किसी भी महिला के लिए परफेक्ट है, जिसमें अगर आप टॉप पर हैं तो आपके पार्टनर के हाथ उनकी मर्जी के अनुसार कहीं भी घूमने के लिए खुले रहते हैं, जबकि आप भी चीज़ों को अगले लेवल तक ले जाने के लिए कहीं भी टच कर सकती हैं।

वर्सेटिलिटी और एक्सप्लोरेशन है खासियत

एक्सपर्ट्स का कहना है कि “द 68” पोज़ीशन की अपील इसे इसकी वर्सेटिलिटी और यौन एक्सप्लोरेशन की आसानी की वजह से परफेक्ट बनाती है। इसमें आप इतने रेस्ट्रिक्टेड नहीं रहते, जितने कि आप 69 में रहते हैं।

आसानी के लिए कोहनियों का करें इस्तेमाल

इस पोजीशन को और आसान बनाने के लिए आप अपनी कोहनियों का इस्तेमाल कर सकते हैं, ताकि आपका सारा वजन आपके पार्टनर पर न रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here