अटल अस्‍थ‍ि कलश यात्रा: जमकर नियम तोड़ रहे भाजपाई, मारपीट तक कर रहे

बीजेपी दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का अस्थि कलश देशभर में लेकर जा रही है। अलग-अलग राज्यों में बीजेपी अस्थि कलश यात्रा निकाल रही है और अपने दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि के कार्यक्रम आयोजित कर रही है लेकिन कई मौकों पर यह यात्रा हंगामे की भेंट चढ़ रही है। बीजेपी कार्यकर्ता नियमों को ताक पर रख कर यात्रा निकाल रहे हैं। गुरुवार (23 अगस्त) को लखनऊ में अस्थि कलश यात्रा में मौजूद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने न केवल पुलिस चौकी पर हमला बोल दिया बल्कि दारोगा के साथ धक्कामुक्की और मारपीट करने के बाद आरोपी साथी को पुलिस के कब्जे से भी छुड़ा लिया।

दरअसल, लखनऊ यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर के साथ मारपीट का आरोपी छात्र प्रशांत मिश्रा अस्थि कलश यात्रा में मौजूद था। यह देखकर पुलिस के अधिकारियों ने उसे गिरफ्तार कर लिया लेकिन वहां मौजूद बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं को यह मंजूर नहीं था।

एक दिन पहले भी अटलजी की श्रद्धांजलि सभा में बीजेपी नेताओं की करतूत से पार्टी को शर्मसार होना पड़ा था। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में बुधवार (22 अगस्त) को अस्थि कलश यात्रा के बाद श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया था लेकिन वहां मंच पर मौजूद राज्य सरकार के दो मंत्रियों बृजमोहन अग्रवाल और अजय चंद्राकर ठहाके लगाते और टेबल ठोकते नजर आए।

बीजेपी नेताओं की इस करतूत का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। इससे पार्टी की किरकिरी हो रही है। हालांकि, दोनों मंत्रियों को हंसते देखकर बगल में बैठे प्रदेश भाजपा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने उन्हें डांट लगाई। इसके बाद दोनों मंत्री चुप हो गए।

जब अटल जी का अस्थि कलश प्रवाहित होने हरिद्वार पहुंचा तो वहां भी भाजपाई कार्यकर्ताओं के हुजूम ने अव्यवस्था फैला दी। इससे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह नाराज हो गए। वो अस्थि प्रवाह के दौरान मंच पर कई बार लोगों पर बिगड़ते हुए दिखे। कहा जा रहा है कि बीजेपी अध्यक्ष ने इस अव्यवस्था की वजह से उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की भी क्लास लगाई। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में भी अस्थि कलश यात्रा के बीद अटलजी के परिवार वालों को बीजेपी की तरफ से कोई साधन नहीं मुहैया कराया गया, इसके बाद उनके परिजन ऑटो से घर जाते हुए दिखे।

बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार को बीजेपी के सभी प्रदेश अध्यक्षों को अटलजी का अस्थि कलश सौंपा था और अपने-अपने राज्यों में कलश यात्रा निकालने का निर्देश दिया था।

loading...