सबसे बड़े हिन्दू नेता का बयान, मोदी को जेल भेजकर रहूँगा

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमेशा हिंदुत्व को बढ़ावा देने की राजनीति की है फिर चाहे वह गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए हो या फिर देश के प्रधानमंत्री रहते हुए।

माना जाता है कि केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सरकार को हिंदूवादी संगठन RSS द्वारा चलाया जाता है।

1. विहिप के पूर्व अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया चल रहे बीजेपी से खफा
बीजेपी के हिंदूवादी संगठनों के साथ गहरे संबंध हैं। लेकिन अब विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने ही बीजेपी पर हमला बोल डाला है।

एक वक्त पर पीएम मोदी के करीबी रहे प्रवीण तोगड़िया इस वक्त बीजेपी से राम मंदिर मुद्दे को लेकर नाराज चल रहे हैं।

2. राम मंदिर निर्माण को लेकर लगाए बीजेपी पर गंभीर आरोप
प्रवीण तोगड़िया ने बीजेपी पर राम मंदिर निर्माण को लेकर यू-टर्न मारने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि मोदी सरकार हिंदुत्व और राम मंदिर निर्माण के मुद्दे को लेकर फेल हो गई है।

अब मोदी सरकार अपना वोट बैंक बढ़ाने के लिए अयोध्या में बाबरी मस्जिद निर्माण की बातें करने लगी है।

3. पीएम मोदी ने भुला दिए बीजेपी के आदर्श
बीजेपी और पीएम मोदी की हरकतों से भड़के हुए प्रवीण तोगड़िया ने कहा है कि मोदी बीजेपी के आदर्शों और उसूलों को भूल चुके हैं। वह अब सिर्फ सत्ता कायम करने के लिए ही राजनीति करते हैं।

बीजेपी ने साल 2014 में बहुमत से सरकार बनाने के बाद राम मंदिर निर्माण का वादा किया था। लेकिन अब मोदी सरकार अपनी बात से पलटी मार रही है।

4. राम मंदिर को लेकर जताई चिंता
प्रवीण तोगड़िया का कहना है कि साल 1993 में अयोध्या भूमि अधिग्रहण बिल में मुकदमा हारने वाले को बची हुई सत्तार 678 एकड़ जमीन देने का प्रावधान है।

इसका मतलब है कि अगर हिंदुओं के पक्ष में फैसला आता है तो राम मंदिर सिर्फ 1100 वर्ग मीटर में ही बनेगा।

5. तोगड़िया ने कहा- गुजरात दंगों के बाद मोदी से हो गया मोहभंग
प्रवीण तोगड़िया ने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा है कि साल 2002 के गुजरात दंगों के बाद से ही मेरा उनके साथ मोहभंग हो गया था। मुझे विहिप ने निकाल दिया गया है। अब मैं हिन्दू कल्याण के लिए ही काम करूँगा।

गौरतलब है कि अयोध्या में राम मंदिर का मुद्दा बीजेपी ने सिर्फ चुनावों के लिए ही रखा है। जिसे उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव या फिर लोकसभा चुनाव के दौरान ही भुनाया जाता है ताकि लोगों से वोट हासिल किए जा सकें।

loading...