ये हैं भारत के सबसे अनपढ़ नेता, नाम और इनकी शिक्षा जानकर हैरान रह जाएंगें

काफी अरसे से देश में यह चर्चा होती रही है कि जिस तरह से सांसदों या विधायकों के निर्वाचन के लिए न्यूनतम उम्र सीमा निर्धारित है,

ठीक उसी तरह से न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता भी निर्धारित होनी चाहिए. समय समय पर होने वाली यह चर्चा समय समय पर दम तोड़ जाती है.

अशिक्षित नेता तो तब भी ठीक थें. अब तो हद हीं हो गई है. आजकल तो नेताओं की फर्जी डिग्री का दौर चल पड़ा है.

दूसरों की कौन कहें देश के प्रधानमंत्री और पूर्व शिक्षा मंत्री तक की डिग्री नकली है. आइए आज जानते हैं, देश के प्रमुख अनपढ़ नेताओं के बारे में.

1. नरेंद्र मोदी
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी. इन्हें कब कौन सी डिग्री मिल जाए, बताना कठिन हो जाता है. कभी अपने इंटरव्यू में कह देते हैं कि मेरी तो शिक्षा दीक्षा हुई हीं नहीं तो कभी एमए पास का सर्टिफिकेट उठा कर ले आते हैं.

इनकी पूरी डिग्री हीं संदेह के घेरे में है, वहीं इनकी यूनिवर्सिटी से डिग्री की जानकारी मांगने पर जवाब मिलता है कि हम किसी तीसरे व्यक्ति को प्रधानमंत्री की डिग्री नहीं दे सकतें.

इसके लिए हमें पीएमओ से आदेश चाहिए. अब जाहिर है, न पीएमओ आदेश देगा और न डिग्री सार्वजनिक होगी.

2. स्मृति ईरानी
ये नरेंद्र मोदी सरकार की पहली शिक्षा मंत्री थीं. देश का दुर्भाग्य देखिए कि शिक्षा मंत्री की डिग्री हीं संदिग्ध थी.

ये पहले बीए पास होती हैं तो बाद में इंटरमीडियट पास हो जाती है. शिक्षा विभाग का कूड़ा कर्कट करने के बाद इन्हें हटा कर टेक्सटाईल विभाग दे दिया गया.

3. उमा भारती
भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती फिलहाल जल संसाधन मंत्रालय का कामकाज देख रहीं है. ये पांचवी पास हैं. इस मामले में ये ईमानदार हैं कि इन्होंने कभी भी अपनी डिग्री छिपाई नहीं या कभी झूठी डिग्री नहीं दिखाई.

4. राबड़ी देवी
बिहार की प्रथम महिला सीएम और राष्ट्रीय जनता दल की नेता राबड़ी देवी महज आठवीं पास हैं. 08 साल तक बिहार की सीएम रहने के अलावा ये पांच साल तक नेता प्रतिपक्ष विधानसभा और फिलहाल नेता प्रतिपक्ष बिहार विधान परिषद हैं.

5. एम श्री निवास राव
इनका पूरा नाम है मुत्तामशेट्टी श्रीनिवास राव. ये आंध्र प्रदेश के अनाकाप्पाले संसदीय क्षेत्र से टीडीपी के टिकट पर सोलहवीं लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए हैं. ये पूरी तरह से अनपढ़ हैं और इनके पास 22 करोड़ रुपये की संपत्ति है.

6. कंवर सिंह तंवर
उत्तर प्रदेश की अमरोहा सीट से भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर निर्वाचित कंवर सिंह तंवर महज पांचवी पास हैं. इनके पास 180 करोड़ रुपये की संपत्ति है जो इन्हें चुनावी हलफनामे में दर्शायी है.

राजनेताओं के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता निर्धारित हो, इससे इंकार नहीं किया जा सकता लेकिन फर्जी डिग्री जनता के सामने प्रस्तुत कर गुमराह करने वालों के लिए कोई सजा निर्धारित होनी चाहिए या नहीं !

loading...