योगी के भड़काऊ भाषण को लेकर आग बबूला हुआ सुप्रीम कोर्ट, योगी पर ज़ारी किये आदेश

योगी आदित्यनाथ को बीते साल BJP द्वारा उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया गया है जिसके बाद से ही प्रदेश में अपराध का स्तर काफी बढ़ चुका है योगी आदित्यनाथ बीजेपी के फायरब्रांड नेताओं में से एक हैं। जिन्होंने अबतक कई बार विवादित बयान दिए हैं। योगी आदित्यनाथ मुस्लिम विरोधी छवि वाले नेता के तौर पर जाने जाते हैं।

1. दंगों के आरोपी हैं योगी आदित्यनाथ
योगी आदित्यनाथ और बीजेपी के नेता होने के साथ-साथ हिंदूवादी संगठन हिंदू युवा वाहिनी के अध्यक्ष भी हैं। जिनके कार्यकर्ताओं के नाम कई मासूम मुसलमानों को प्रताड़ित करने के आरोप में सामने आ चुके हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नाम दंगों में भी सामने आ चुका है

2. साल 2007 के गोरखपुर दंगों में दिया था भड़काऊ भाषण
साल 2007 में गोरखपुर में हुए दंगों के दौरान उन्होंने एक भड़काऊ भाषण दिया था जिसके बाद इलाके में हुए दंगों में एक शख्स की मौत और कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। आपको बता दें कि योगी आदित्यनाथ उस वक्त गोरखपुर के तत्कालीन सांसद थे। इसे साथ सीम योगी ने यूपी विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान भी मुसलमानों के खिलाफ कई भड़काऊ बयान दिए थे।

3. सुप्रीम कोर्ट ने की योगी के खिलाफ करवाई
अब खबर सामने आ रही है कि सुप्रीम कोर्ट ने योगी आदित्यनाथ के खिलाफ एक बड़ा फैसला लिया है। जिसमें उन्होंने गोरखपुर दंगों के मामले में योगी आदित्यनाथ की रिहाई पर सवाल खड़े किए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने योगी सरकार से जवाब मांगा है कि गोरखपुर दंगे मामलों में सीएम योगी पर केस क्यों ना चलाया जाए।

4. मुश्किल में आ सकते हैं सीएम योगी
इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को ही सीएम योगी द्वारा साल 2007 के गोरखपुर दंगों में भड़काऊ भाषण देने के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ नोटिस जारी किया है। आपको बता दें कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सीएम योगी पर केस चलाने की याचिका को खारिज कर दिया था लेकिन याचिकाकर्ताओं ने इसके बाद सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था।

loading...